BREAKING NEWS
post viewed 151 times

पीपल के पत्तों से छूमंतर हो जाती हैं ये बड़ी पांच बीमारियां

peepal-ke-patto

हमारे हिंदू धर्म में पीपल के वृक्ष की पूजा की जाती है. मान्यता है कि पीपल के वृक्ष में सभी देवी-देवताओं का वास होता है और इसकी पूजा करने से व्यक्ति के ग्रह दोष को भी शांत किया जा सकता है. पीपल के वृक्ष का ना सिर्फ धार्मिक महत्व है बल्कि यह वैज्ञानिक दृष्टिकोण से इंसान के लिए काफी उपयोगी माना गया है. पूरे 24 घंटे तक ऑक्सीजन देने वाले इस पेड़ पीपल के पत्तों का इस्तेमाल आयुर्वेद में कई दवाओं को बनाने के लिए किया जाता है. आइए आज हम आपको बताते हैं कि पीपल के पत्ते आपको किन 5 बीमारियों से छुटकारा दिलाते है.

पीपल के पत्तों से दिल के रोगों का खतरा होता है कम :-

पीपल के पत्ते व्यक्ति को दिल की बीमारियों के खतरे से बचाता है. इसके लिए पीपल की 15 ताजी हरी पत्तों को एक गिलास पानी में अच्छी तरह से उबाल लें. पानी को तब तक उबालें जब तक वो एक तिहाई ना रह जाए. फिर उस पानी को ठंडा करके छान लें और इसकी तीन खुराक बना लें. दिन में हर तीन घंटे के बाद इसका सेवन करें. ऐसा करने से दिल से संबंधित बीमारियों के खतरे को दूर किया जा सकता है.

पीपल के पत्तों से मिलता है अस्थमा के मरीजों को लाभ :-

अस्थमा के मरीजों के लिए पीपल का पेड़ काफी कारगर माना जाता है. अस्थमा से राहत पाने के लिए पीपल के तने की छाल के अंदर के हिस्से को निकालकर सुखा लें. जब यह अच्छी तरह से सूख जाए तो इसका बारीक चूर्ण बना लें. अब इस चूर्ण का पानी के साथ सेवन करें. यह इलाज अस्थमा के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है.

पीपल के पत्तों से सर्दी-खांसी में मिले राहत :-

बदलते मौसम के चलते होनेवाली सर्दी-खांसी को दूर करने के लिए भी पीपल के पत्तों का इस्तेमाल किया जा सकता है. सर्दी-खासी से झटपट आराम पाने के लए पीपल के पांच पत्तों को दूध के साथ उबाल लें. जब ये अच्छी तरह से उबल जाए तो इसमें चीनी डालकर सुबह और शाम के वक्त इसका सेवन करें.

पीपल के पत्तों से मिलता पीलिया के मरीजों को लाभ :-

पीलिया से पीड़ित लोगों के लिए पीपल के पत्ते किसी चमत्कारी औषधि से कम नहीं है. पीलिया के मरीजों को पीपल के पत्तों के रस में मिश्री मिलाकर इसका सेवन करना चाहिए. ऐसा करने से पीलिया के दौरान मरीज को काफी आराम मिलता है.

पीपल के पत्तों से दांतों की समस्या में मिलेगा आराम :-

पीपल के तने से बनी दातुन का इस्तेमाल करके आप अपने दांतों को मजबूत और मोतियों की तरह सफेद बना सकते हैं. पीपल की दातुन से दांतों का दर्द दूर होता है. इसके साथ ही 10 ग्राम पीपल की छाल, कत्था और दो ग्राम काली मिर्च को बारीक पीसकर बनाए गए मंजन का इस्तेमाल करने पर दांतों की सारी समस्याओं से छुटकारा मिलता है.
पीपल के पत्तों से मिलने वाले स्वास्थय लाभों की जानकारी वाला यह लेख आपको अच्छा और लाभकारी लगा हो तो कृपया लाईक और शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से ही किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँचती है और हमको भी आपके लिए और बेहतर लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है । इस लेख के समबन्ध में आपके कुछ सुझाव हों तो कृपया कमेण्ट के माध्यम से हमको जरूर सूचित करें ।

Be the first to comment on "पीपल के पत्तों से छूमंतर हो जाती हैं ये बड़ी पांच बीमारियां"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*