BREAKING NEWS
post viewed 76 times

परीक्षा में थोड़ा बहुत पूछ लेना नकल नहीं, मैंने भी ऐसा किया है: अखिलेश यादव

212132-akhilesh-yadav

माजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि परीक्षा में थोड़ा बहुत पूछ मात कर लेना नकल नहीं है. एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में अखिलेश यादव ने कहा, ‘परीक्षा में पूछमात कर लेना नकल नहीं है.

 नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि परीक्षा में थोड़ा बहुत पूछ मात कर लेना नकल नहीं है. एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में अखिलेश यादव ने कहा, ‘परीक्षा में पूछमात कर लेना नकल नहीं है. ऐसा लगभग 90 फीसदी लोगों ने अपने छात्र जीवन में किया होगा. मैंने भी किया है.’ उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार में बोर्ड परीक्षा को नकलमुक्त कराने के दावे पर पूछे गए सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि ये दावा बिल्कुल झूठा है. उन्होंने आरोप लगाया कि अलीगढ़, भदोही, गोरखपुर जैसी जगहों पर परीक्षा केंद्र के बजाय बीजेपी नेता के घर पर कॉपियां मंगवा ली गई थी और खुलेआम नकल कराई गई है. उन्होंने आरोप लगाया कि इस बार बीजेपी से जुड़े लोगों ने खुलकर नकल कराई है. वहीं सामान्य छात्रों को नकल करने से रोका गया.
  1. अखिलेश यादव ने नकल पर दिया बड़ा बयान
  2. कहा, लगभग 90 फीसदी लोग कर चुके हैं नकल
  3. अखिलेश ने ओपन बुक परीक्षा लागू करने की सलाह दी

अखिलेश यादव ने योगी सरकार में नकल रोके जाने की घटना को रोजगार से जोड़ते हुए कहा कि राज्य में बेरोजगारी चरम पर है. सीएम योगी अपने चुनावी वादे के अनुसार रोजगार देने में पूरी तरह फेल साबित हुए हैं. ऐसे में नहीं चाहते हैं कि राज्य में रोजगार मांगने वाले युवा पैदा हों, इसलिए उन्होंने ऐसी साजिश रची की छात्र बोर्ड परीक्षा ही पास न कर सकें, ताकि बाकी बचे कार्यकाल में रोजगार मांगने वाले ही न हो.

‘ओपन बुक परीक्षा लागू कराए बीजेपी’
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने स्वीकार किया कि उनके शासन में बोर्ड परीक्षाओं में नकल होती थी. उन्होंने कहा कि अगर योगी सरकार वास्तव में छात्रों के हित में नकल रोकना चाहती है तो यूरोपीय देशों की तर्ज पर ओपन बुक परीक्षा लागू करे. स्कूलों में पढ़ाई के ऐसे इंतजाम करे कि छात्रों को नकल करने की जरूरत ही न पड़े. उचित पढ़ाई का इंतजाम किए बिना नकल रोकना अच्छा फैसला नहीं है.

मालूम हो कि इस बार 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में 11 लाख 27 हजार छात्रों ने परीक्षा नहीं दी. इस बार पिछले साल की अपेक्षा नकलची कम संख्या में पकड़े गए, वहीं पहले दिन से परीक्षा छोड़ने का जो सिलसिला शुरू हुआ वह अंतिम दिन जारी रहा है। अब बोर्ड प्रशासन का जोर उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन पर है। यह कार्य 17 मार्च से एक साथ प्रदेश भर में शुरू हो रहा है। अंतिम दिन 3306 छात्रों ने परीक्षा छोड़ी. हाईस्कूल में छह लाख 31 हजार 61 सहित कुल 11 लाख 27 हजार 815 परीक्षार्थी किनारा किया है. 11146 छात्र नकल करते पकड़े गए, जिसमें से 136 के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया.

मुलायम ने रेप को लेकर दिया था विवादित बयान
2014 के लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान समाजवादी पार्टी के संस्थापक और अखिलेश यादव के पिता मुलायम सिंह यादव ने रेप को लेकर विवादित बयान दिया था. रेप करने वालों को लेकर मुलायम ने कहा था, ‘लड़कों से गलतियां हो जाया करती हैं, उन्हें कठिन सजा देने की क्या जरूरत है.’

Be the first to comment on "परीक्षा में थोड़ा बहुत पूछ लेना नकल नहीं, मैंने भी ऐसा किया है: अखिलेश यादव"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*