BREAKING NEWS
post viewed 45 times

Indigo या GoAir में करने जा रहे हैं सफर, तो घर से निकलने से पहले जरूर पढ़ लें यह खबर

indigo

इंजन की परेशानियों की वजह से इंडिगो के ग्यारह और गो एय़र के तीन विमानों को जमीन पर उतार दिया गया है. जब तक यह समस्या पूरी तरह ठीक नहीं हो जाती तब तक ये विमान उड़ान नहीं भर सकेंगे.

 नई दिल्ली: अगर आप इंडिगो या गोएयर की फ्लाइट पकड़ने जा रहे हैं, तो एक बार एयरलाइन की उड़ान को लेकर पूरी जानकारी ले लें. इंजन की परेशानियों की वजह से इंडिगो के ग्यारह और गो एय़र के तीन विमानों को जमीन पर उतार दिया गया है. जब तक यह समस्या पूरी तरह ठीक नहीं हो जाती तब तक ये विमान उड़ान नहीं भर सकेंगे.

औसतन एक विमान दिन में छह से आठ उड़ान भरता है. ऐसे में अब अगर 14 विमान जमीन पर उतार लिए जाए तो हर रोज 84 से 112 उड़ानें प्रभावित हो सकती हैं. इंडिगो और गो, दोनो ने ही, नागरिक विमानन महानिदेशालय यानी डीजीसीए के निर्देश मिलने की बात मानी है, लेकिन अभी तक ये जानकारी नहीं दी कि कितनी उड़ानें प्रभावित होंगी, अलबत्ता यात्रियों को कम से कम परेशानी होने का भरोसा दिलाया है.

इन फ्लाइट्स को किया गया रद्द

कंपनी की तरफ रद्द की गई फ्लाइट्स में दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद, बेंगलुरु, पटना, श्रीनगर, भुवनेश्वर, अमृतसर और गुवाहाटी की फ्लाइट्स शामिल हैं. अचानक रद्द की गई इन फ्लाइट्स के कई मुसाफिरों को काफी मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है.

लगातार आ रही इंजन बंद होने की शिकायत 

बता दें कि इन विमानों में एक खास सीरीज के प्रैट एंड व्हिटनी इंजन लगे हैं, जिनमें उड़ान के दौरान ही बंद होने की शिकायत आ रही थी. बीते एक महीने से भी कम वक्त में तीन बार इन इंजनों ने बीच आसमान में ही काम करना बंद कर दिया, जिसके बाद डीजीसीए ने यह कदम उठाया गया है.

ऐसे विमानों में सुरक्षा को लेकर चिंतित नागरिक विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने यह निर्णय इंडिगो के ए320 नियो विमान का आसमान में इंजन फेल हो जाने की घटना के कुछ ही घंटे में लिया है. इस विमान के इंजन फेल होने के कारण अहमदाबाद एयरपोर्ट पर सोमवार को इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी थी. विमान संचालन में सुरक्षा का हवाला देते हुए डीजीसीए ने कहा कि ईएसएन 450 से अधिक क्षमता वाले प्रैट एंड व्हिटनी 1100 इंजन वाले ए320 नियो विमानों की उड़ान पर तुरंत प्रभाव से रोक लगा दी गई है.

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा, ‘इंडिगो और गो एयर दोनों से कहा गया है कि वह इन इंजनों को नहीं लगाएं. ये इंजन उनके पास स्टॉक में अतिरिक्त संख्या में उपलब्ध हैं.’ नियामक ने कहा है कि वह इस मुद्दे पर सभी संबंधित पक्षों के साथ संपर्क में रहेगा और जब यूरोपीय नियामक ईएएसए और प्रैट एंड व्हिटनी इस मुद्दे का समाधान करेंगे वह भी स्थिति की समीक्षा करेगा.

Be the first to comment on "Indigo या GoAir में करने जा रहे हैं सफर, तो घर से निकलने से पहले जरूर पढ़ लें यह खबर"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*