नई दिल्ली/ लखनऊ/ पटना- उत्तर प्रदेश की गोरखपुर, फूलपुर और बिहार की अररिया समेत दो विधानसभा सीटों पर वोटों की गिनती जारी है। कई राउंड की गिनती हो गई है। यूपी के गोरखपुर फुलपुर से सपा उम्मीदवार अागे चल रहे हैं। बिहार की अररिया लोकसभा सीट से राजद उम्मीदवार सरफराज आलम आगे चल रहे हैं।

फूलपुर लोकसभा

फूलपुर सीट पर 22 उम्मीदवार मैदान में हैं। फूलपुर सीट उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य के  विधान परिषद की सदस्यता ग्रहण करने के बाद त्यागपत्र देने के कारण खाली हुई थी। बता दें कि फूलपुर उपचुनाव के लिए 37.4 फीसदी मतदान हुआ है। जबकि 2014 के लोकसभा चुनाव में 50.2 फीसदी मतदान हुआ था। इस तरह इस बार 12.4 फीसदी वोटिंग कम हुई है। गौरतलब है कि आजादी के बाद पहली बार मोदी लहर में फूलपुर में भाजपा का 2014 के लोकसभा चुनाव में खाता खुला था। केशव प्रसाद मौर्य ने भाजपा प्रत्याशी के तौर पर जीत दर्ज की थी।

-16वें राउंड की मतगणना के बाद सपा प्रत्याशी नागेंद्र पटेल 1,80,367 वोट मिले। जबकि भाजपा उम्मीदवार कौशलेंद्र पटेल को कुल 1,52,740 वोट प्राप्त हुए। इस हिसाब से नागेंद्र पटेल इस राउंड तक 27,000 वोटों से आगे चल रहे हैं। वहीं, निर्दलीय उम्मीदवार अतीक अहमद को 21,585 और कांग्रेस के मनीष मिश्र को 8.469 वोट मिले।

–  फूलपुर में 15वें राउंड की मतगणना में सपा के नागेंद्र सिंह पटेल 22842 वोटों से आगे चल रहे हैं। यहां सपा को 167008 मत मिले हैं, जबकि भाजपा के कौशलेंद्र सिंह पटेल को 144166 मत मिले हैं।

-14वें राउंड की गिनती के बाद सपा के नागेंद्र पटेल 20495 वोटों से अागे चल रहे हैं। यहां सपा को 155314 तथा भाजपा को 134819 वोट मिले हैं।

– 11वें राउंड की गणना के बाद सपा नागेंद्र पटेल 15713 वोटों से अागे चल रहे हैं। यहां सपा को 122247 वोट अौर भाजपा के कौशलेंद्र सिंह पटेल को 106534 वोट मिले हैं।

-नौवें राउंड की मतगणना के बाद सपा उम्मीदवार नागेंद्र पटेल 12 231 वोट से अागे चल रहे हैं।

–  अाठ राउंड की काउंटिंग पूरी। सपा को 87272 मत व भाजपा को 77348 मत मिले। यहां सपा को नागेंद्र पटेल 9924 वोट से अागे चल रहे हैं।

–  समाजवादी पार्टी प्रत्याशी नागेंद्र पटेल 54,562 वोट तथा भाजपा प्रत्याशी कौशलेंद्र सिंह पटेल को 47631 वोट मिले हैं। यहां सपा 6931 वोट से अागे चल रही है।

-चौथे राउंड में फूलपर से सपा उम्मीदवार नागेंद्र पटेल 3607 वोटों से आगे।

– तीसरे राउंड की गणना के बाद सपा प्रत्याशी नागेंद्र पटेल को मिले 33227 मत, भाजपा प्रत्याशी को 30786 मत, सपा प्रत्याशी नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल भाजपा प्रत्याशी कौशलेंद्र पटेल से 2441 मतों से आगे चल रहे हैं। कांग्रेस प्रत्याशी मनीष मिश्रा को सिर्फ 1398 मत मिले हैं।

-फूलपुर में सपा नागेंद्र पटेल और भाजपा के कौशलेंद्र पटेल के बीच वोटों का अंतर बढ़ गया है।

गोरखपुर लोकसभा

गोरखपुर सीट के लिये 10 उम्मीदवार मैदान में हैं। गोरखपुर सीट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विधान परिषद की सदस्यता ग्रहण करने के बाद त्यागपत्र देने के कारण खाली हुई थी। यहां से भाजपा प्रत्याशी उपेंद्र शुक्ल बढ़त बनाए हुए हैं।

-17वें राउंड की गणना के बाद सपा उम्मीदवार 26960 वोटों से अागे चल रहे हैं। सपा प्रत्याशी प्रवीण निषाद को 262346 मत तथा भाजपा को उपेंद्र शुक्ला को 235836 मत मिले हैं।

-15वें राउंड की मतगणना के बाद सपा उम्मीदवार प्रवीण निषाद 23,130 वोटों से आगे हैं। इस राउंड तक सपा उम्मीदवार को कुल 229622 वोट मिले, जबकि भाजपा उम्मीदवार उपेंद्र शुक्ल को 2,06,492 वोट मिले। वहीं, कांग्रेस को 9742 वोट प्राप्त हुए।

– 14वें राउंड की गिनती के बाद सपा19201 वोटों से अागे चल रही है। सपा के प्रवीण निषाद को 212061 तथा भाजपा के उपेंद्र शुक्ला को 192860 मत मिले हैं।

– 12वें राउंड की गिनती के बाद सपा14668 वोटों से अागे चल रही है। यहां सपा के प्रवीण निषाद को 180155 तथा भाजपा के उपेंद्र शुक्ला को 165487 वोट मिले हैं।

-गोरखपुर में 11वें राउंड की गिनती के बाद सपा प्रत्याशी 13879 वोटों से अागे चल रहे हैं। यहां सपा के प्रवीण निषाद को 163941 वोट तथा उपेंद्र शुक्ला को 150062 वोट मिले हैं।

–  9वें राउंड में सपा प्रत्याशी 15 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं।

– गोरखपुर में 8 राउंड की काउंटिंग पूरे होने के बाद सपा 10598 वोटों से अागे चल रही है। यहां सपा के प्रवीण कुमार निषाद को 119427 वोट व  भाजपा के उपेंद्र नाथ शुक्ला को 108829 वोट मिले हैं।

-गोरखपुर में 7राउंड पूरे होने पर सपा 10 हजार वोट से आगे चल रही है।

-गोरखपुर में 6 राउंड पूरे होने के बाद समाजवादी पार्टी को बड़ी बढ़त, सपा उम्मीदवार करीब 7139 वोटों से आगे चल रहे हैं। यहां सपा के प्रवीण निषाद को 89950 तथा भाजपा के उपेंद्र शुक्ला को 82811 वोट मिले हैं।

-गोरखपुर में पांचवें राउंड तक सपा को 74377 और भाजपा को 70317 वोट मिले। सपा प्रत्याशी प्रवीण कुमार 4060 वोटों से अागे चल रहे हैं।

– चौथे राउंड की मतगणना के बाद सपा उम्मीदवार 2962 वोटों से अागे चल रहे हैं। यहां सपा उम्मीदवार प्रवीण निषाद को 59907 तथा भाजपा को उपेंद्र शुक्ला को 56945 वोट मिले हैं।

– तीसरे राउंड की मतगणना के बाद सपा उम्मीदवार प्रवीण निषाद 1523 वोटों से आगे चल रहे हैं। सपा उम्मीदवार को कुल 44979 वोट मिले हैं, जबकि भाजपा उम्मीदवार को 43456 मिले हैं।

– गोरखपुर में दूसरे राउंड की काउंटिंग पूरी। सपा के प्रवीण कुमार निषाद को 29218 व भाजपा को उपेंद्र दत्त शुक्ला को 29194 मत मिले।

– भाजपा प्रत्याशी उपेंद्र शुक्ला को 15577 अौर सपा प्रत्याशी प्रवीण कुमार निषाद को 13911 वोट मिले हैं। भाजपा उम्मीदवार अागे चल रहे हैं।

– चार राउंड की गिनती पूरी, सपा प्रत्याशी बढ़त बनाए हुए हैं।

-शुरुआती रुझान आने शुरू हो गए हैं और यहां से भाजपा के उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। पहले चरण की काउंटिंग के दौरान भाजपा उम्मीदवार उपेंद्र शुक्ल 3200 वोटों से आगे हैं।

अररिया लोकसभा

वहीं बिहार में पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर सभी की निगाहें हैं। अररिया लोकसभा सीट आरजेडी उम्मीदवार सरफराज आलम के पिता और सांसद तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद खाली हुई थी। बिहार की सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे इसलिए भी महत्वपूर्ण हैं क्योंकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एनडीए के साथ आने के बाद यह पहला उपचुनाव है।

– अररिया सीट से आरजेडी के सरफराज आलम 23187 वोटों से आगे चल रहे हैं। सरफराज को 333050 मत मिले हैं, जबकि भाजपा के प्रदीप सिंह को 309863 मत मिले हैं।

–  अररिया सीट से अारजेडी के सरफराज अालम 12151 वोटों से अागे चल रहे हैं। यहां सरफराज को 257108 वोट अौर भाजपा के प्रदीप सिंह को 244957 वोट मिले हैं।

– अररिया सीट पर अारजेडी उम्मीदवार 4000 वोटों से आगे चल रहे हैं।

– बिहार की अररिया लोकसभा सीट पर भाजपा उम्मीदवार प्रदीप सिंह अब पिछड़ने के बाद एक बार फिर आगे आ गए हैं। चौथे चरण की मतगणना के बाद बीजेपी को 80,732 वोट मिले हैं, जबकि आरजेडी को 73489 वोट प्राप्त हुए हैं। इस हिसाब से भाजपा उम्मीदवार 7243 वोटों से आगे चल रहे हैं। दोनों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिल रहा है।

-बिहार की अररिया लोकसभा सीट पर भाजपा उम्मीदवार प्रदीप सिंह अब पिछड़ गए हैं। एक बार फिर आरजेडी के सरफराज आलम आगे निकल गए हैं। दोनों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिल रहा है। फिलहाल, सरफराज आलम 1300 वोटों से आगे हैं।

– अररिया सीट से भाजपा प्रत्याशी प्रदीप कुमार सिंह को 113169 वोट व अारजेडी प्रत्याशी सरफराज अालम को 104190 वोट मिले हैं।  यहां भाजपा 8979 वोट से अागे चल रही है।

-अररिया सीट से भाजपा के प्रदीप कुमार सिंह 4203 वोटों से आगे चल रहे हैं। यहां आरजेडी के उम्मीदवार सरफराज आलम से उनकी कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है।

-बिहार की अररिया लोकसभा सीट पर भाजपा उम्मीदवार प्रदीप सिंह अब पिछड़ गए हैं। एक बार फिर आरजेडी के सरफराज आलम आगे निकल गए हैं। दोनों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिल रहा है।

-अररिया सीट से भाजपा प्रत्याशी  प्रदीप सिंह 5500 वोट से आगे चल रहे हैं।

-अररिया लोकसभा सीट की दूसरे राउंड की काउंटिंग पूरी। भाजपा उम्मीदवार प्रदीप सिंह 3780 वोट से आगे आगे चल रहे हैं।

-अररिया लोकसभा सीट पर आरजेडी के सरफराज आलम 2 हजार वोटों से आगे चल रहे थे। लेकिन पहले चरण की काउंटिंग के बाद भाजपा उम्मीदवार ने बढ़त बना ली है। इसके बाद फिर से सरफराज आलम ने लीड ले ली है।

-अररिया लोकसभा सीट की पहले राउंड की गिनती पूरी हो गई है। भाजपा उम्मीदवार प्रदीप सिंह आगे चल रहे हैं।

-अररिया में पोस्ट बैलेट की गिनती में आरजेडी के सरफराज आलम 2000 वोटों से आगे चल रहे थे।

-अररिया से राजद उम्मीदवार सरफराज आलम भाजपा उम्‍मीदवार प्रदीप सिंह से आगे चल रहे हैं।

 यूपी में औसत मतदान

उत्तर प्रदेश में हुए लोकसभा उपचुनाव में मतदान का प्रतिशत कम रहा। इन सीटों पर हुए मतदान को आगामी आम चुनावों से पहले भाजपा के लिए एक इम्तिहान माना जा रहा है। उत्तर प्रदेश राज्य निर्वाचन कार्यालय से जारी बयान में कहा गया कि गोरखपुर में 43 फीसदी मतदाताओं ने जबकि फूलपुर में 37.39 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की साख दांव पर है।

जानिए क्या होगा असर

इन लोकसभा सीटों के नतीजे न सिर्फ यूपी बल्कि केंद्र की राजनीति के सियासी समीकरणों में भी बड़ा बदलाव लाएंगे। खासतौर पर गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव को राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और सपा-बसपा की प्रतिष्ठा से जोड़कर देखा जा रहा है। गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव से पहले यूपी की राजनीति ने नई करवट ली है। मतदान से ठीक पहले जहां चिर प्रतिद्वंद्वी सपा-बसपा ने हाथ मिला लिया, वहीं राज्यसभा चुनाव में सपा-बसपा के साथ कांग्रेस भी भाजपा के खिलाफ एक मंच पर आ गई है।

जाहिर तौर पर अगर उपचुनाव के नतीजे सपा के पक्ष में रहे तो इन तीनों दलों के लोकसभा चुनाव से पूर्व एक मंच पर आने की संभावना और मजबूत हो जाएगी। चूंकि ये दोनों सीटें सीएम योगी और डिप्टी सीएम मौर्य के इस्तीफे से खाली हुई है, इसलिए इसे न सिर्फ भाजपा बल्कि योगी-मौर्य की प्रतिष्ठा से भी जोड़ कर देखा जा रहा है। अगर सत्तारूढ़ दल अपनी दोनों सीटें जीतने में कामयाब रहा तो सपा-बसपा-कांग्रेस के एक मंच पर आने की संभावनाओं पर ग्रहण लगने के आसार बनेंगे। सभी सीटों पर 11 मार्च को वोट डाले गए थे।