BREAKING NEWS
post viewed 37 times

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के वार्ड में निर्दलीय उम्मीदवार से पिछड़ गया भाजपा प्रत्याशी

keshav-prasad-maurya

फूलपुर लोकसभा सीट पर ५७ हजार से ज्यादा वोटों से जीता सपा उम्मीदवार

फूलपुर: उत्तर प्रदेश के फूलपुर लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल 59, 613 वोटों से जीत हासिल करने में सफल रहे. मतगणना की शुरुआत से ही सपा प्रत्याशी ने बढ़त बनाए रखी और अंतत: जीत हासिल करने में सफल रहे. गौरतलब है कि यह सीट राज्य के डिप्टी सीएम केशप प्रसाद मौर्य के इस्तीफे से खाली हुई थी और इसलिए भाजपा के साथ-साथ विपक्षी पार्टियों के लिए भी प्रतिष्ठा की लड़ाई थी. ताज्जुब यह कि केशव प्रसाद का घर जिस वार्ड में है, वहां भी पार्टी प्रत्याशी वोटों की गिनती में पिछड़ गया. इस वार्ड में कौशलेंद्र पटेल को सपा प्रत्याशी ही नहीं, बल्कि निर्दलीय उम्मीदवार से भी कम वोट मिले.

सपा के नागेंद्र पटेल के मुकाबले भाजपा ने यहां कौशलेंद्र सिंह पटेल तथा कांग्रेस ने मनीष मिश्रा को उम्मीदवार बनाया था. नौ निर्दलीय सहित 22 प्रत्याशी चुनाव मैदान में थे जिनमें बाहुबली अतीक अहमद भी शामिल थे.

अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी के सचिव और पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री के पोते विभाकर शास्त्री की राय में फूलपुर की जनता को मौजूदा सरकार से विकास को लेकर जो उम्मीदें थीं, वे पूरी नहीं हुईं. डिप्टी सीएम बनने से पहले मौर्य विरले ही अपने संसदीय क्षेत्र में जाते थे. इससे भी वहां की जनता आहत थी.

हालांकि, चुनाव से पूर्व भाजपा ने इस सीट पर निश्चित जीत का दावा किया था. पार्टी के वरिष्ठ नेता कलराज मिश्र ने कहा था कि सपा और बसपा का गठबंधन परस्पर विरोधी विचारधाराओं का गठबंधन है. फूलपुर संसदीय क्षेत्र में फूलपुर, फाफामउ, सोरांव, इलाहाबाद उत्तर तथा इलाहाबाद पश्चिम विधानसभा सीटें शामिल हैं. भाजपा के लिए यह सीट इसलिए भी महत्वपूर्ण थी क्योंकि 2014 में पहली बार यहां से पार्टी का प्रत्याशी सांसद चुना गया था.

Be the first to comment on "डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के वार्ड में निर्दलीय उम्मीदवार से पिछड़ गया भाजपा प्रत्याशी"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*